Home Uncategorized JNU क्षात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार को BJP सांसद ने बताया भगत सिंह , कार्यक्रम में हुआ बवाल

JNU क्षात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार को BJP सांसद ने बताया भगत सिंह , कार्यक्रम में हुआ बवाल

25 second read
0
0
42

बीजेपी सांसद भोला सिंह कैलाशपति मिश्र के पुण्यतिथि समारोह में पहुँचे हुए थे। वह वहाँ समारोह में जनसभा को संबोधित करने के दौरान जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार की तुलना क्रांतिकारी भगत सिंह से कर दी। और उसके बाद उस कार्यक्रम में बवाल मच गया।

भोला सिंह बिहार के बेगूसराय से बीजेपी सांसद हैं। बीजेपी सांसद कैलाशपति मिश्र के पुण्यतिथि में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। वह एक बार फिर अपनी पार्टी से अलग सुर अलापे हैं। जनसभा को संबोधित करने के दौरान बीजेपी सांसद भोला सिंह ने जेएनयू क्षात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार की तुलना क्रांतिकारी शाहिद भगत सिंह से कर दी, जिसके खिलाफ वहाँ मौजूद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी। जिसके बाद कन्हैया कुमार को भगत सिंह बताने पर बीजेपी सांसद को समारोह से जाना भी पड़ा।
वहीं पार्टी की ओर से बीजेपी एमएलसी रजनीश कुमार ने सांसद भोला सिंह के बयान की निंदा की।
जानें कन्हैया कुमार से जुड़ी कुछ बातें।

कन्हैया कुमार भी बिहार के बेगूसराय का रहने वाला है। यहीं के बीजेपी सांसद भोला सिंह हैं। कन्हैया जेएनयू क्षात्र संघ का पूर्व अध्यक्ष था। और CPI का स्टूडेंट विंग AISF का नेता भी है। 2016 में दिल्ली पुलिस ने कन्हैया कुमार को क्षात्र रैली में से भारत विरुद्ध नारे लगाने को लेकर अरेस्ट किया था। कन्हैया पर आईपीसी धारा 124-A और 120-B लगाया गया था। लेकिन पुख्ता सबूत न होने के कारण 2 मार्च 2016 को इसे अंतरिम जमानत पर छोड़ दिया गया।
BJP सांसद ने कहा,’कन्हैया को देशद्रोही साबित करे सरकार’

बीजेपी सांसद भोला सिंह कार्यक्रम छोड़ने के बाद भी अपने बयान पर अड़े रहे। और बोले कि केंद्र में अभी बीजेपी की सरकार है, और अगर कन्हैया देशद्रोही है तो उसे देशद्रोही घोषित किया जाए।
ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि, बीजेपी सांसद भोला सिंह ने पार्टी से अलग सुर अलापे हैं। ऐसा पहली बार नहीं है, जिसकी उनकी पार्टी ही आलोचना कर रही है। भोला सिंह अक्सर अपनी ही पार्टी , उसकी योजनाओं और शीर्ष नेतृत्व पर सवाल उठाते रहे हैं।

बीजेपी सांसद भोला सिंह लोकसभा में प्रधानमंत्री मोदी की महत्वाकांक्षी परियोजना ‘स्मार्ट सिटी ‘ की उपयोगिता पर सवाल उठाते हुए प्रधानमंत्री की मौजूदगी में कहा था कि स्मार्ट सिटी परियोजना से पहले से विकसित शहरों का ही विकास होगा, पिछड़े शहरों और अति विकसित शहरों के बीच खाई बढ़ेगी और विषमताओं के पहाड़ खड़े होंगे।

Load More Related Articles
Load More By Ashish Ranjan
Load More In Uncategorized

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

दिल्ली के बवाना इंडस्ट्रियल एरिया में लगी भीषण आग, 17 लोगो की मौत कई घायल

दिल्ली: राजधानी के बवाना इंडस्ट्रियल एरिया पठाखे की फैक्ट्री  में भीषण आग लग गई। न्यूज एजे…