Home देश जीएसटी नेटवर्क की दिक्कते होंगी दूर बिहार सहित सभी राज्यों में होंगे स्थायी इंजीनियर :सुशील मोदी

जीएसटी नेटवर्क की दिक्कते होंगी दूर बिहार सहित सभी राज्यों में होंगे स्थायी इंजीनियर :सुशील मोदी

3 second read

जीएसटी नेटवर्क क्रियान्वयन के लिए गठित मंत्री समूह की बंगलुरू में आयोजित चौथी बैठक में इंफोसिस के चेयरमैन नन्दन निलकेनी से मिलने के बाद उपमुख्यमंत्री सह समूह के अध्यक्ष सुशील कुमार मोदी ने बताया कि इंफोसिस की ओर से पिछले दो सप्ताह में सौ नए आईटी इंजीनियर सहित कुल 621 इंजीनियर नेटवर्क के क्रियान्वयन के लिए तैनात किए गए हैं। बिहार सहित सभी राज्यों मंफ जीएसटी नेटवर्क में आ रही समस्याओं के समाधान व समन्वय के लिए स्थायी आईटी इंजीनियर की नियुक्ति की गई है।
Sponsored

श्री मोदी ने जीएसटीएन की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि सितम्बर की तुलना में अक्तूबर में राजस्व संग्रह में करीब 2 हजार करोड़ की वृद्धि के साथ ही राज्यों के औसत राजस्व संग्रह की कमी घटी है। सितम्बर में जहां पूरे देश  में 93,141 करोड़ वहीं अक्तूबर में 95,131 करोड़ राजस्व का संग्रह हुआ है। अगस्त में राज्यों के राजस्व की औसत कमी जहां 28.4 प्रतिशत (12,208 करोड़) थी वहीं अक्तूबर में यह घट कर 17.6 प्रतिशत (7,560 करोड़) हो गई है। यह दर्शाता  है कि जीएसटी धीरे-धीरे स्थायित्व प्राप्त कर रहा है जिससे राजस्व संग्रह में वृद्धि हो रही है।

श्री मोदी ने कहा कि जीएसटी कौंसिल की गुवाहाटी बैठक में 200 से अधिक रोजमर्रे की चीजों पर कर की दर 28 से घटा कर 18 प्रतिशत कर देने के बाद जहां करों की दर से संबंधित 80 प्रतिशत मामले सुलझ गए हैं वहीं अब जोर प्रक्रियाओं के सरलीकरण पर है। इंफोसिस के चेयरमैन सहित उनकी पूरी टीम ने आश्वस्त  किया है कि रिटर्न फॉर्म, एचएसएन कोड, इनवॉयस मैचिंग आदि की जटिलताओं को भी शीघ्र ही दूर कर दिया जायेगा।

Load More Related Articles
Load More By AShish Ranjan
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Check Also

खुद को सुन्नी वक्फ बोर्ड का वकील ना बताने पर गिरिराज सिंह ने कपिल सिब्बल पर किया बड़ा खुलासा

कल देश की सर्वोच्च अदालत में श्री राम जन्मभूमि केस की सुनवाई शुरू हुई तो कांग्रेस के नेता …