Home देश अब नया केजरीवाल नहीं बनने दूंगा : अन्ना हजारे

अब नया केजरीवाल नहीं बनने दूंगा : अन्ना हजारे

0 second read

प्रमुख समाजसेवी अन्ना हजारे ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मेरा कोई संबंध नहीं। और साथ हीं मोदी सरकार पर भी निशाना साधते हुए कहे कि अभी तक भ्रष्टाचार से मुक्ति नहीं मिली और ना ही रुकी। आगे सरकार पर निशाना साधते हुए कहे कि देश के किसानों को उचित मूल्य नहीं मिल रहा। नोटबन्दी और जीएसटी को लेकर निशाना साधते हुए कहे कि इससे आम आदमी को कोई लाभ नहीं हुआ।

गांधीवादी नेता व प्रमुख समाजसेवी अन्ना हजारे ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मेरा कोई संबंध नहीं है, अब मैं अपने आंदोलन से दूसरा केजरीवाल नहीं निकलने दूंगा। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी, दोनों के विकल्प को खारिज कर दिया।

आगरा के संजय प्लेस स्थित शाहिद स्मारक पर आयोजित जनसभा में अन्ना ने कहा कि हमें भाजपा और कांग्रेस सरकार नहीं चाहिए क्योंकि इनके जेहन में उद्दोगपति और इंडस्ट्री है, आम जनता नहीं। देश के किसानों को फसल का उचित मूल्य नहीं मिल रहा। जबकि बैंक किसानों से मोटा ब्याज वसूल रहे हैं। जिसके चलते वह आत्महत्या कर रहे हैं। नोटबन्दी और जीएसटी से आम आदमी को कोई लाभ नहीं हुआ, उल्टे इससे कालाधन सफेद हो गया। अब वह 23 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में लोकपाल के समर्थन और किसान हित में जनसभा करेंगे।

उन्होंने कहा कि फिलहाल वह ढाई माह तक भ्रमण कर लोगों को उनके अधिकारों के प्रति सजग कर रहे हैं। पत्रकार वार्ता में कहा कि अब सियासी महत्वाकांक्षा को पूरा नहीं होने देंगे। आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाने वालों से इस आशय के शपथपत्र लूंगा की वे राजनीति में नहीं जाएंगे और न ही किसी पार्टी ओ समर्थन करेंगे।

मोदी सरकार पर भी निशाना साधते हुए कहे कि इनकी सरकार में भी भ्रष्टाचार नहीं रुकी। सभी राज्यों में भ्रष्टाचार है।

Load More Related Articles
Load More By Piyush Singh
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Check Also

ए. एन. कॉलेज में दो दिवसीय इंस्पिरेशनल केमिस्ट्री कार्यशाला का आयोजन हुआ

Lokmat LIVE Desk:- माइक्रो स्केल प्रायोगिक तकनीक द्वारा कई प्रयोग किए गए जिससे कम से कम रस…