Home बिहार “मोदी चौक कांड”:बिहार पुलिस ने तथ्यों से गुमराह करने का काम किया-भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय

“मोदी चौक कांड”:बिहार पुलिस ने तथ्यों से गुमराह करने का काम किया-भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय

2 second read

बिहार के दरभंगा में बीजेपी नेता के पिता की गर्दन काटने का मामला सामने आया . आरोप है कि बीजेपी नेता ने एक चौराहे का नामकरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर करते हुए ‘मोदी चौक’ रख दिया था. इस मुद्दे पर खूब विवाद भी हुआ. बीजेपी नेता का आरोप है कि रात में बाइक सवार 50-60 लोगों ने उसके पिता की गर्दन काट कर हत्या कर दी.

इस भीड़ ने उसके भाई को भी मारने की कोशिश की. बस इसी कारण रामचंद्र यादव जी की गला रेत कर हत्या कर दी गई व उनके पुत्र को बुरी तरह जख्मी कर दिया गया। दरभंगा की यह घटना किसी खास व्यक्ति की हत्या नहीं अपितु एक राष्ट्रवादी सोच की हत्या है, यह हत्या एक सोची-समझी राजनीतिक षड्यंत्र का हिस्सा है जिसका मकसद राष्ट्रवादी सोच को दबाना है, यह घटना से ऐसा प्रतीत होता है कि कहीं न कहीं भारत से राष्ट्रवादी ताकतों को खोखला करना व फासीवादी ताकतों को स्थापित करने की गहरी साजिश का परिणाम है। हमें ऐसी विचारधारा के खिलाफ डटकर मुकाबला करने की जरूरत है व ऐसी कुंठित मानसिकता व घटिया सोच को उखाड़ फेंकने की जरूरत है।

उधर, पुलिस ने बताया कि इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है और घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.लेकिन बाद में मामला भूमि विवाद बताकर बिहार पुलिस बचना चाह रही रही है लेकिन मोदी चौक के दौरे पेर गयी भाजपा की टीम ने बिहार पुलिस पर हमला बोला है,दौरे पर गयी इस टीम में केंद्रीय मंत्री श्री गिरिराज सिंह, प्रदेश के उपाध्यक्ष गोपाल जी ठाकुर, प्रदेश महामंत्री श्री सुशील चौधरी, प्रदेश मंत्री श्री अर्जुन साहनी, जिला अध्यक्ष श्री हरी साहनी , विधायक श्री संजय सारोही , विधानपरिषद सदस्य सुनील सिंह एवं पूर्व विधायक अशोक यादव के साथ तेजनारायण  के निवास स्थान जाकर दुःखी एवं सन्तप्त परिवार से बिहार भाजपा के नेता मिलें और अस्पताल जाकर घायल कमलदेव यादव की स्थिति का जायजा लिया।

बिहार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा है की गत दिनों भाजपा के पंचायत अध्यक्ष श्री तेजनारायण यादव जी के वृद्ध पिता श्री रामचन्द्र यादव जी की ‘मोदी चौक’ विवाद को लेकर हत्या कर दी गयी। उनके भाई श्री कमलदेव यादव पर जानलेवा हमला भी हुआ जिसके बाद उन्हें DMC अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। यह कृत्य निंदनीय है। इस मामले में स्थानीय पुलिस ने सही जानकारी न लेकर तथ्यों से गुमराह करने का काम किया है। हम राज्य सरकार को सही जानकारी से अवगत कराएंगे।

Load More Related Articles
Load More By lokmat live desk
Load More In बिहार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Check Also

विशाल सिंह के नेतृत्व में क्षत्रिय महासभा ने कराया पटना बंद

Sc/st एक्ट के विरोध में अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा द्वारा आज पटना के पाटलिपुत्र में भारत …