Home लोकमत स्पेशल सत्तर साल के दिग्विजय सिंह कैसे पड़े थे 25 साल छोटी महिला के प्यार में, जानें पूरी कहानी

सत्तर साल के दिग्विजय सिंह कैसे पड़े थे 25 साल छोटी महिला के प्यार में, जानें पूरी कहानी

2 second read

कहते हैं प्यार न जाति-धर्म की दीवार देखता है, न ही उम्र का बंधन और न ही अमीरी गरीबी। मोहब्बत तो बस हो जाती है। कुछ ऐसा ही हुआ था वरिष्ठ कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह के साथ जब उनको प्यार हो गया था। प्यार भी कोई हम उम्र से नहीं बल्कि 25 साल छोटी महिला से। उनके प्यार ने बड़ा सियासी ड्रामा किया था। आइए जानते हैं दिग्विजय सिंह और उनके प्यार की कहानी आखिर क्या थी।

1947 में पैदा हुए हैं दिग्विजय सिंह
विकीपीडिया की जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह जो दिग्गी राजा के नाम से भी मशहूर हैं। वो राजा के खानदान के हैं। उनका जन्म इंदौर में हुआ था। यहां गुना जिले की राघौगढ़ रियासत में राजा बलभद्र सिंह के परिवार में 1947 की 28 फरवरी को हुआ था। दिग्विजय सिंह रजवाड़े खानदान के हैं, इस वजह से उनकी पढ़ाई भी अच्छी हुई। वे इंदौर से ही पढ़े- लिखे हैं।

इंजीनियर हैं दिग्विजय सिंह, इंदौर से किया है बीई
आपको पता नहीं होगा कि कांग्रेस के नेता होने से पहले दिग्विजय सिंह एक इंजीनियर भी थे। जी हां विकीपीडिया के मुताबिक दिग्विजय सिंह ने डेली कॉलेज से शुरुआती पढ़ाई करने के बाद इंदौर से ही इंजीनियर की डिग्री ली है। उन्होंने इंदौर के ही जीएसआईटीएस में एडमिशन लिया था और मैकेनिकल से इंजीनियरिंग की डिग्री ली है।

1977 में पहली बार बने विधायक, 93 में बने मप्र के सीएम
दिग्गी राजा पहली बार 1977 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक बने थे। वे राघौगढ़ क्षेत्र से चुने गये थे। इसके बाद जब अर्जुन सिंह की सरकार बनी तो 1980 से 84 तक सरकार में मंत्री बने। वो दो बार लोकसभा के सदस्य भी रहे हैं। दिग्विजय सिंह 1993 में पहली बार मध्य प्रदेश के सीएम बने और करीब 10 सालों तक यानि 2003 तक इस पद पर बने रहे।

साल 2015 में पहली बार खुला रिश्ते का रहस्य
इंडिया की खबर के मुताबिक दिग्विजय सिंह की पहली शादी आशा नाम की महिला से 1969 में हुई थी। उनकी साल 2013 में मौत हो गयी थी। इसी के बाद अचानक साल 2015 में एक फोटो वायरल हुई। जिसमें 68 साल के दिग्विजय सिंह 25 साल छोटी महिला के साथ दिखे थे। पहली बार दुनिया के सामने वो सच्चाई आई जिसको दोनों न जाने कब से छिपा रहे थे।

कौन है दिग्विजय की जिन्दगी में आई वो लड़की
जिस महिला की बात हम कर रहे हैं वो टीवी की दुनिया का जाना-माना चेहरा है। उनका नाम अमृता राय है। 1972 को उत्तर प्रदेश में जन्मी अमृता राय दिग्विजय सिंह से करीब 25 साल छोटी हैं। अमृता ने अपना करियर बीएजी फिल्म्स के साथ शुरू किया था। इसके बाद वो स्टार न्यूज, एनडीटीवी से लेकर राज्यसभा में प्राइम टाइम एंकर रहीं। उनके बुलेटिन की जमकर तारीफ होती थी।

असिस्टेंट प्रोफेसर से की थी पहली शादी
सीनियर एंकर अमृता राय ने पहली शादी एक असिस्टेंट प्रोफेसर से की थी। इतना उनका नाम आनंद प्रधान है। आनंद इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन (आईआईएमसी) दिल्ली में मास कम्युनिकेशन पढ़ाते हैं। अमृता और आनंद के रिश्ते ठीक नहीं चल रहे थे। इस वजह से दोनों ने साल 2014 में तलाक ले लिया था। हालांकि खबरें उड़ती हैं कि तलाक दिग्विजय सिंह की वजह से हुआ था।

कैसे मिले दोनों और कैसे हुआ प्यार
दोनों की पहली मुलाकात कहां हुई और दोनों के बीच अफेयर कब से चल रहा था। इस बारे में आधिकारिक जानकारी किसी के पास नहीं है लेकिन चूंकि अमृता पत्रकारिता का बड़ा चेहरा थीं तो जाहिर सी बात है कि पत्रकार बड़े लोगों के संपर्क में रहते हैं। इसी बीच दोनों में मुलाकात प्यार में बदल गई होगी और दोनों ने एक-दूसरे से शादी करने का मन बना लिया होगा। दोनों ने हिम्मत दिखाई थी और प्यार कबूल लिया था।

अमेरिका में पढ़ा बेटा हो गया था नाराज
दिग्विजय सिंह और अमृता दोनों ने सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद साल 2015 में रिश्ते को नाम देना जरूरी समझा। दोनों ने शादी कर ली थी और सबका मुंह बंद कर दिया था। खबरें थी कि इस शादी से दिग्गी राजा का अमेरिका में पढ़ा बेटा जयवर्धन सिंह नाराज था। हालांकि उसने इस विषय पर टिप्पणी करने से ही मना कर दिया था। उसका कहना था कि यह पिता का निजी मामला है।

नितिन गडकरी पर लगा था फोटो वायरल करने का आरोप
दिग्गी राजा और उनकी पत्नी अमृता के रिश्ते से जुड़ा एक सच और आपको बता दें। जब दोनों की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी, उस समय यह नितिन गडकरी नाम के किसी ट्विटर अकाउंट से वायरल की गई थीं। जब यह आरोप भाजपा नेता पर लगा तब उन्होंने सफाई दी थी कि यह मेरे नाम से बना फेक अकाउंट है। इसकी जांच करवाई जानी चाहिए…अगर आपको यह न्यूज पसंद आई तो इसको शेयर कर सकते हैं। ऐसी ही और खबरों को जानने के लिए आप मुझे फॉलो भी कर सकते हैं। धन्यवाद।।

Load More Related Articles
Load More By lokmat live desk
Load More In लोकमत स्पेशल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Check Also

हिंदुओं को बदनाम करने के लिए एजेंडा चला रहे कुछ मीडिया घराने और तथाकथित सेक्यूलरवादी!!

23 जुलाई, 2018 को टाइम्स ऑफ इंडिया ने अपने आर्टिकल ‘Maharashtra ‘godman’ forces men into u…